Important Use Of Kalonji Seed for Skin In Hindi |

 कलौंजी के बीज से पाएं निखरी और बेदाग त्वचा  ( Important Use Of Kalonji Seed for Skin  In Hindi ):-


KALAUNJI OIL

Skin Care Tips: कलौंजी के बारे में आज हम आपको ऐसी जानकारी देने

वाले हैं जिन्हें जानकर आप हैरान रह जाएंगे ।कलौंजी का उपयोग भारतीय

व्यंजनों और मसलों तथा अनेक प्रकार के रोगों को ठीक करने के लिए किया

जाता है।

 

सबसे ज्यादा कलौंजी का उपयोग यूनानी दवाओं को बनाने में किया

जाता है। कलौंजी फेस पैक मुहासों की समस्या को दूर करते हैं और

त्वचा में निखार भी लाते हैं। कलौंजी फेस मास्क का इस्तेमाल कई

तरीके से किया जाता है। कलौंजी के बीज का पाउडर बनाकर उसे

स्क्रब की तरह इस्तेमाल किया जा सकता है।


आमतौर पर अचार में डाली जाने वाली कलौंजी स्वाद तो बढ़ाती है

लेकिन लोग इसे ऐसे ही खाना पसंद नहीं करते। ब्यूटी से लेकर हेयर

तक और शरीर की कई बड़ी बीमारियों तक में कलौंजी का सेवन

आपको बहुत फायदा पहुंचा सकता है । इसमें आयरन के साथ भरपूर

मात्रा में सोडियम, कैल्शियम, पोटैशियम और फाइबर होता है। इसमें

अमीनो एसिड और प्रोटीन भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं।

 

 

 

कलौंजी का तेल आपके स्किन से लेकर बालों तक के लिए काफी फायदेमंद होता है। डॉक्टर की माने तो एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुण होने के कारण इसका इस्तेमाल हर ब्यूटी प्रॉब्लम से निजात दिलाता है। कलौंजी का तेल ही नहीं बल्कि कलौंजी का बीज भी त्वचा के लिए बेहद लाभकारी होता है।

 

इससे मुहासें दूर होते हैं और त्वचा में निखार भी आता है। कलौंजी फेस मास्क का इस्तेमाल कई तरीके से किया जाता है। कलौंजी के बीज का पाउडर बनाकर उसे स्क्रब की तरह इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके अलावा आप कलौंजी के बीज का इस्तेमाल कई अन्य तरीके से भी कर सकते हैं।

इन बीमारियों में लाभकारी है कलौंजी


डायबिटीज :-
           
प्रतिदिन 2 ग्राम कलौंजी के सेवन के परिणामस्वरूप तेज हो रहा ग्लूकोज कम होता है। इंसुलिन रैजिस्टैंस घटती है,बीटा सैल की कार्यप्रणाली में वृद्धि होती है

 

हाई ब्लड प्रेसर :-
      100
या 200 मिलीग्राम कलौंजी के सत्व के दिन में दो बार सेवन से हाइपरटैंशन के मरीजों में ब्लड प्रैशर कम होता है।

गंजेपन में फायदेमंद :-
      
जली हुई कलौंजी को हेयर ऑइल में मिलाकर नियमित रूप से सिर पर मालिश करने से गंजापन दूर होकर बाल उग आते हैं।

त्वचा के विकार :-
         
कलौंजी के चूर्ण को नारियल के तेल में मिलाकर त्वचा पर मालिश करने से त्वचा के विकार नष्ट होते हैं।

लकवा में लाभकारी :-
          
कलौंजी का तेल एक चौथाई चम्मच की मात्रा में एक कप दूध के साथ कुछ महीने तक प्रतिदिन पीने और रोगग्रस्त अंगों पर कलौंजी के तेल से मालिश करने से लकवा रोग ठीक होता है।


                 KALAUNJI OIL



पेट दर्द में रामबाण है कलौंजी :- 

     पेट दर्द हो एक गिलास नींबू पानी में 2 चम्मच शहद और आधा चम्मच कलौंजी का तेल मिलाकर दिन में 2 बार पीएं। उपचार करते समय रोगी को बेसन की चीजे नहीं खानी चाहिए।या फिर 1 गिलास मौसमी के रस में 2 चम्मच शहद और आधा चम्मच कलौंजी का तेल मिलाकर दिन में 2 बार पीने से पेट का दर्द समाप्त होता है।

 

 

   ब्यूटी से लेकर हेयर तक और शरीर की कई बड़ी बीमारियों तक में कलौंजी का सेवन आपको बहुत फायदा पहुंचा सकता है इसमें आयरन के साथ भरपूर मात्रा में सोडियम, कैल्शियम, पोटैशियम और फाइबर होता है। इसमें अमीनो एसिड और प्रोटीन भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। आगे जानिए इसके कुछ घरेलु उपाय और फायदे।

1. कलौंजी का सेवन गरम पानी में करने से अस्थमा की समस्या और जोड़ों के पुराने दर्द में भी फायदा मिलता है ।इस उपाय को आजमाने से आपको काफी राहत मिलेगी।

 2. इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट्स भविष्य में कैंसर के खतरे को भी कम करते हैं । इसे रोजाना खाने से आप निकट भविष्य में कई गंभीर बीमारियों के खतरे से बच सकते हैं ।

3. इन बीजों का तेल भी इसतेमाल होता है खांसी आदि में ये तेल बड़ी राहत पहुंचाता है

4.
अगर आप बालों की समस्या से जूझ रहे हैं, बाल लगातार गिर रहे हैं गंजापन बढ़ रहा है तो कलौंजी के तेल में ऑलिव ऑयल और मेंहदी पाउडर मिलाकर हल्का गर्म कर लें अब इस मिश्रण को एक बोतल में रख दें हफ्ते में दो बार सिर की मसाज करें


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां